• Breaking News

    GYANZALAK ONLINESTUDY



    mkshukla

    Job

    Wednesday, 29 March 2017

    TET-2 , H-TAT VERY I.M.P MATERIAL

    TET , H-TAT  VERY  I.M.P  MATERIAL 

    TET , H -TAT  TET  6TO 8 माटे बहुत  उपयोगी मटीरियल हिंदी कक्षा -7 प्रथम सत्र  के  पाठ्य के अनुसार कवी परिचय, काव्य ग़द्य प्रकार , मुहावरे , शब्दार्थ ,व्याकरण आदि का मटीरियल है।  जो आपको TET -2 और H -TAT की परीक्षा के लिए आपको उपयोगी होगा। .... 

    प्रकरण -२ तब यद् तुम्हारी आती है। 

    काव्य प्रकार - कविता 
    कवि -रामनेरश त्रिपाठी 
    जन्म -०४-०३-१८८९ 
    • कौमुदी कितने भाग में विभाजित है ?- ८ 
    • ग्रामगीता के रचयिता के नाम ?- रामनरेश त्रिपाठी 
    •  रामनरेश त्रिपाठी के कृति के नाम दीजये ? -मिलन ,'पथिक ',स्वप्न ', मानसी 
    • रामनरेश त्रिपाठी के कोनसी काव्य कुर्ति को हिन्दुश्तान अकादमी का पुरष्कार दिया गया है ?- स्वप्न 
    • "हे प्रभो आनदं दताज्ञान हमको दीजिये " ...... किसने  इस प्राथना लिखी  है ?-रामनरेश त्रिपाठी 
    • शब्दार्थ 

      चिडया -पक्षी ,पंछी 
      लहर -तरंग ,जोका 
      सिरजनहार -सुर्ष्टि की रचना (सुर्जन ) करनेवाला ,प्रभु 
      हरयाली -हरा -भरा   
      • समानार्थी   सुबह -प्राप्त काल 
      • ख़ुशी -आनंद 
        खुसबू -सुगंध 
        बहुत -ज्यादा 
        मुस्काना -हँसना

        प्रकरण-३ कुते की वफ़ादारी 

        कुते की वफादरी कहानी के लेखक ?-लल्लू भाई रबारी 
        कुते के समाधी कहा  पे है ?-राधनपुर 
        • शब्दार्थ 
          समाधि -स्मारक 
          वफादार -स्वामी भक्ति 
          बंजारा -एक विचरती जाती 
          पड़ाव -यात्रा में कुछ समय का ठहराव 
          लादना -किसी के ऊपर बहुत -सी  वस्तुए  रखना 
          लुटेरा -लूटने वाला डाकू 
          मिश्री -चीनी ,शक्कर 
          लोटाना -वापस आना 
          मुग्ध -आसक्त ,मोहित 
          सूद -व्याज 
          शव -मुरतदेह 
          गोद - आँचल ,खोलो (गुजराती )  
          मुहावरे
          हदय हिला देना -हदय को द्रवित  करना 
          नो -दो गह्यरा होना -भाग जाना 
          मार  खजाना ना -नुकसान होना 
          हका -बका रह जाना -चकित होना 
          फूटी कोड़ी न होना -अत्यंत गरीब होना 
          आव देखा ना ताव   -बिना सोचे समजे काम करना 
          कोई चारा न होना -कोई उपाय ना होना , रास्ता न होना 
          फुट फुट के रोना -जोर -जोर से रोना 
          कहावत  
          अब पछताये होता क्या ,जब चुडिया चुग गई खेत - समय निकल जाने पर पछताने से क्या फायदा 
          जाती वाचक :-sagna -जो शब्द सपूर्ण जाती का बोध करता है।    
          जाती वाचक शब्द 
          सैनिक , गाय ,नदि , कुत्ता 

          प्रकरण - ४ कथनी और करनी  

          साहित्य स्वरूप -निबंध 
          शब्दार्थ 
          सवार -सजाया 
          अनन्तर -भेद ,फर्क 
          पार्क -बाग , बगीचा 
          कतार -पंक्ति 
          वर्जित -निषेध ,मनाही 
          कंडेक्टर - परिचालक 
          सीघ्र -जल्दी 
          तपाक से - जोश के साथ जल्दी से 
          पोता - पुत्र का पुत्र 
          प्रतीक्षा - इंतजार 
          राशि -रकम 
          अचार - व्यवहार 
          सदैव - सदा के लिए 

          मुहावरे 

           गुणों की खान -बहुत गुनी 
          पानी -पानी होना -बहुत लिज्जत होना 
          - कहावत किसे कहते है ?- लोगो के अनुभव आधारित और समाज में रूढ़ हो गई  हो , ऐसी बात या उक्ति को "कहावत" कहते है। 
          कहावते 
          आम के आम  गुठलियो के दाम - दोहरा लाभ होना 
           करनी वैसी  भरनी -कर्मो के अनुसार फल मिलना 
          साच को आंच नहीं - सच्चे व्यक्ति को कोई भय नहीं होता 
          कला अक्षर भेस बराबर - बिलकुल अनपढ़ होना 
          -बॉध करता शब्दो - अहीसा , चढ़ाई , विनम्रता , शांति , दया , प्रेम , श्रमा ,-गुण ,दोष भाव ,दशा ,
          -समहू वाचक sagna   :- जो समहू का निर्देशन करते हे उसे समहू वाचक sagna कहते है। ... 
          जैसी की भीड़ ,टोली , सभा 
          भाव वाचक sagna - जो शब्द गुण ,दोष , भाव,दशा , आदि का बॉध करते है  वे भाव वाचक sagna है। 

          प्रकरण -६  हिद देश के निवाशी 

          शब्दार्थ 

          कुक -कोयल की आवाज 
          पपीहा - एक पक्षी के नाम 
          टेर -पपीहे की पुकार 
          तरना- गीत 
          पंथ -रस्ता 
          निराला -अनूठा 
          मंजिल -ध्यय 
          पुरुष वाचक  सर्व नाम
           जब हम बात चित करते हे तो  कभी अपने बारे में कभी sorata  के अपने बारे में तो कभी shorta के बारे में तो कभी तीसरे srota   

          -

           

           

          •  

           

     
       

    No comments:

    Post a Comment

    if you like sher with your friend

    '; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();